गुरुग्राम

हरियाणा के सभी 22 जिले
Spread the love

 ईन प्रशनों से रिलेटिड Video आप हमारे YouTube चैनल पर भी देख सकते हैं click here

स्थापना1 नवंबर 1966
साइबर सिटी गुरुग्राम

हरियाणा सरकार ने 13 अप्रैल सन 2016 को गुड़गांव का नाम बदलकर गुरुग्राम कर दिया।

गुरुग्राम में सर्वप्रथम

  1. सबसे अधिक साक्षरता दर वाला जिला गुड़गांव हि है।
  2. हरियाणा में सबसे ज्यादा राजस्व की प्राप्ति गुरुग्राम से होती है।
  3. सर्वप्रथम राष्ट्रीय उद्यान बोर्ड की स्थापना भी यहीं पर हुई।
  4. हरियाणा में स्टेट साइबर क्राइम ब्रांच का पहला थाना भी गुरुग्राम में खुला है।
  5. हरियाणा में सबसे अधिक शॉपिंग मॉल गुरूग्राम मे ही हैं।
  6. भारत का सबसे बड़ा मॉल भी यही पर स्थित है। जो 1997378 स्क्वेयर फीट है।
  7. हरियाणा में सर्वप्रथम पुलिस कमिश्नरी भी यहीं पर 2008 में लागू हुआ।
  8. हरियाणा का पहला खाद्य बैंक गुरुग्राम में ही स्थित है।

हरियाणा का पहला गेहूं जीन बैंक करनाल में स्थित है।

हरियाणा का पहला अनाज बैंक पानीपत में स्थित है।

  1. गुरुग्राम में एन.एच. 8 जो कि अब बदलकर एन.एच. 48 हो गया है ईस पर 32 नम्बर टोल गेट एशिया का सबसे बड़ा तथा विश्व का तीसरा सबसे बड़ा टोलगेट है।
  2. फरुखनगर में सबसे पहले रेलवे लाइन 1865 में राजपूताना मालवा ने नमक ढोने के लिए बनवाई थी।
  3. देश की ही नही बल्कि एशिया की सबसे बड़ी निजी नगर योजना डी.एल.एफ भी यहां पर स्थित है।
  4. हरियाणा में सबसे ज्यादाझाड़ियां गुरूग्राम में ही पाई जाती हैं।

गुरुग्राम के बाद दूसरे नंबर पर पंचकूला के अंदर सबसे ज्यादा झाड़ियां पाई जाती हैं।

हरियाणा के जींद में बिल्कुल भी झाड़ियां नहीं हैं।

  1. हरियाणा की सबसे ऊंची मूर्ति यहीं पर स्थित है।
  2. गुरुग्राम में देश का पहला मॉडल कैरियर सेंटर भी बनाया गया है।
  3. हरियाणा में पहली बार “हिंदू आध्यात्मिक एवं सेवा मेला” 2 से 5 फरवरी 2017 को गुरुग्राम में लगा।
  4. हरियाणा का पहला ग्रीन रोड गुड़गांव के पटौदी में है।
  5. हरियाणा में सबसे पहले मेट्रो ट्रेन गुरुग्राम में ही चली थी।
  6. गुरुग्राम का बिनोला गांव हरियाणा का पहला सी.एफ.एल गांव बना है।
  7. हरियाणा और देश का ही नहीं बल्कि एशिया का पहला फोटोग्राफिक सेंटर भी गुरुग्राम में ही स्थित है।
  8. गुरुग्राम में ही देश की सबसे पहली पॉड टैक्सी सेवा की शुरुआत हुई, जिसका नाम मेट्रिनो है और यह सौर ऊर्जा से चलती है। इसकी लंबाई 12.13 किलोमीटर है। इसे पर्सनल रैपिड ट्रांजिस्टो के नाम से भी जाना जाता है।
  9. देश की पहली सौर ऊर्जा ट्रेन दिल्ली से फरुखनगर तक 14 जुलाई 2017 को चलाई गई थी। इस ट्रेन में 10 कोच हैं। इस ट्रेन की छतों पर16 सोलर पैनल लगाए गए हैं। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने हरी झंडी दिखाकर इसका शुभारंभ किया।
  10. पहली निजी क्षेत्र की परियोजनाओं की शुरुआत भी गुरूग्राम से ही हुई।

लिंगानुपात 854 हरियाणा का सबसे कम लिंग अनुपात ईसी जिले का है।

  • लिंग अनुपात – 854/1000
  • जनसंख्या – 15 लाख 14 हजार 85 है।
  • साक्षरता दर – 84.4%
  • जनसंख्या घनत्व – 1241 व्यक्ति/वर्ग किलोमीटर
  • उप-मंडल – सोहना, पटौदी, दक्षिणी वह उतरी गुडगांव।
  • तहसील – गुडगांव, पटौदी, सोहना, फर्रुखनगर और मानेसर।
  • खंड – फरुखनगर, गुडगांव, पटौदी और सोहना।
  • प्रमुख नगर – पटोदी, हेलीमंडी, झाड़सा, सुखराली, सीलोखेरा।
  • क्षेत्रफल – स्थापना के समय 6086 वर्ग किलोमीटर/ वर्तमान क्षेत्रफल 1258 वर्ग किलोमीटर

नामकरण

गुडगांव का नाम गुरु द्रोणाचार्य से जुड़ा है। कहा जाता है कि गुरु द्रोणाचार्य को उनके शिष्यों ने इसे गुरु दक्षिणा के रूप में भेंट दिया था। इसलिए इसे गुरुग्राम भी कहा जाने लगा और आगे चलकर यह गुडगांव के नाम से जाना जाने लगा। इस गांव का पूरा नाम गुड़गांव मसानी था क्योंकि यहां पर मसानी माता (चेचक की देवी शीतला)  का प्राचीन मंदिर स्थित है।

गुरुग्राम को अन्य कई नामों से जाना जाता है जैसे –

  1. साइबर सिटी
  2. सपनों की सिटी
  3. सौर ऊर्जा का हब
  4. गुरु द्रोणाचार्य का गांव
  5. कॉल सेंटर ऑफ कैपिटल
  6. भारत की मॉल सिटी
  7. इलेक्ट्रॉनिक सिटी
  8. अमीरों की नगरी
  9. मिलेनियम सिटी

इतिहास

गुडगावा जिले के गठन के समय यहां तीन रियासतें तथा 11 परगने थे। जिले का सबसे पहला डी.सी. केवन्डिश बना था, जिसे लोग घमंडी साहब कह कर भी पुकारते थे।मारुति उद्योग, जापान के होंडा मोटर्स, सुजुकी मोटरसाइकिल उद्योग आदि उद्योगों ने गुडगांव का नाम दुनिया में रोशन किया है। सॉफ्टवेयर निर्माण में चेन्नई और बेंगलुरु के बाद गुड़गांव का देश में तीसरा स्थान है। गुरु द्रोणाचार्य की पत्नी शीतला माता के नाम से शीतला माता मंदिर भी यहां का बहुत प्रसिद्ध मंदिर है।

सुल्तानपुर झील,खलीलपुर झील,कोटला झील यहां की प्रमुख झील हैं। इसके अलावा सोहना का किला भी यहां पर स्थित है। नेहरू स्टेडियम भी यहां पर स्थित है।

पुलिस कमिश्ननरेट – हरियाणा में गुड़गांव ऐसा पहला जिला है जहां पुलिस कमिश्ननरेट सिस्टम लागू किया है। इसके अंतर्गत पुलिस महानिरिक्षक रैंक के अधिकारी को पुलिस आयुक्त नियुक्त किया गया है, जिसके अधीन भारतीय पुलिस सेवा के छह पुलिस आयुक्त कार्यरत हैं।

नगर निगम – गुड़गांव नगर परिषद को राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2008 में नगर निगम का दर्जा दिया गया।

महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल

  1. शमां पर्यटन केंद्र – गुडगांव नगर में हरियाणा पर्यटन निगम की ओर से सभी आधुनिक सुविधाओं से युक्त शम्मा पर्यटन केंद्र दिल्ली-गुडगांव मार्ग पर स्थित है।
  2. शीतला माता मंदिर – इस मंदिर का निर्माण 1650 में सूरजमल के शासक के द्वारा 18 वीं शताब्दी में कराया गया। राजा जवाहर सिंह के द्वारा इस मंदिर में द्रोणाचार्य की पत्नी कृति देवी की मूर्ति की स्थापना की गई। यह मंदिर राजस्थानी वास्तु पैटर्न में डिजाइन किया गया है।
  3. शीतला माता बोर्ड – हरियाणा सरकार ने श्री माता शीतला देवी पूजा स्थल बोर्ड का गठन सन् 1991 में किया। इस बोर्ड के 11 सदस्य हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री इसके प्रमुख अध्यक्ष हैं।
  4. गर्म जल का चश्मा, सोहना – गुड़गांव जिले का विश्व विख्यात स्थान सोहना अपने गर्म जल स्रोतों के कारण अपनी पहचान दूर-दूर तक कायम कर चुका है।
  5. दमदमा झील – सोहना से मात्र 8 किलोमीटर की दूरी पर प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर दमदमा झील है। यह हरियाणा की सबसे बड़ी झील है। यह 3000 एकड़ में फैली हुई है। यह झील मछली पकड़ने के लिए प्रसिद्ध है। यहां पर पतंग मेले का आयोजन भी किया जाता है। दमदमा झील पर नवंबर माह में गुब्बारे मेले का आयोजन किया जाता है।
  6. पटौदी महल – हरियाणा के गुडगांव जिले के छोटे से कस्बे पटौदी में वास्तुकार हैंज ने नवाब इब्राहिम अली खाँ के महल का डिजाइन बनाया और परिणाम स्वरुप सन 1935 में पटौदी महल नाम से एक भव्य भवन निर्मित किया, जिसे गांव के लोग वाइट पैलेस के नाम से पुकारते हैं। अब इस महल में नीमराणा समूह की ओर से हेरिटेज होटल चलाया जा रहा है।
  7. चौधरी देवीलाल आदर्श औद्योगिक नगरी – यह गुरुग्राम के मानेसर में 500 एकड़ जमीन पर फैला है। केंद्र सरकार द्वारा ऑटोमोबाइल उद्योग के लिए अनुसंधान एवं विकास संस्थान गुरुग्राम के मानेसर में स्थापित किया गया है।
  8. सुल्तानपुर पक्षी विहार – राजधानी दिल्ली से 46 किलोमीटर दूर गुड़गांव-फरुखनगर सड़क पर हरियाणा का अति सुरम्य सुल्तानपुर पक्षी विहार स्थित है। सुल्तानपुर पक्षी विहार को हरियाणा का सलीम अली पक्षी विहार भी कहते हैं। इसको हरियाणा का प्रमुख इको पार्क भी कहा जाता है।
  9. सुल्तानपुर राष्ट्रीय पार्क – यह फर्रूखनगर में स्थित है। इसे 1971 में पक्षी अभ्यारण के रूप में विकसित किया गया था‌। 1972 में इसे जलीय पक्षी हेतु आरक्षित किया गया।1989 में ईसे राष्ट्रीय पार्क का दर्जा दिया गया। यह उद्यान प्रवासी पक्षियों के लिए काफी प्रसिद्ध है। साइबेरियन सारस पक्षी यहां का प्रमुख आकर्षक केंद्र है। इसका क्षेत्रफल 1.43 वर्ग किलोमीटर है।
  10. सुल्तानपुर झील भी फरूकनगर में ही स्थित है।
  11. शीशमहल – यह फैजदार खां ने अष्टभुजाकार आकृति में फर्रूखनगर के अंदर बनवाया था। यह लाल किले की हूबहू नकल है।
  12. सराय अलावादी गांव की मस्जिद – यह प्राचीन मस्जिद अलाउद्दीन खिलजी के शासनकाल में बनाई गई थी।
  13. फरुखनगर- गुडगांव जिले में स्थित फरुखनगर नामक एक छोटा सा नगर है। यहां बड़ी मात्रा में नमक मनाया जाता था और बाहर भेजा जाता था। 1865 मैं यहां पुरानी राजपूताना मालवा रेलवे लाइन भी बिछाई गई थी।यहां के बीचोल शासक दलेल खाँ ने ईस नगर को अष्टभुजीय आकृति में बनवाया था।
  14. सोहना – सोहना शहर की स्थापना रिकुस नामक फकीर के द्वारा की गई। सोहना अरावली की पहाड़ियों के मध्य में स्थित है। यहां पर झरने का पानी गंधक की वजह से गर्म निकलता है।  लोग मानते हैं कि इस पानी में त्वचा रोगों को दूर करने की क्षमता है। फरवरी माह में यहां पर विंटेज कार रैली का आयोजन किया जाता है।

1975 से 1977 के दौरान जब आपातकाल लगाया गया था उस समय चौधरी देवीलाल व मोरारजी देसाई जैसे बड़े नेताओं को यहां पर नजरबंद कर दिया गया।

  1. नेहरू स्टेडियम – गुरुग्राम के नेहरू स्टेडियम में प्रथम हाकी एस्ट्रो टर्फ का निर्माण किया गया है।
  2. गुड़गांवा नहर – गुड़गांवा नहर गुरुग्राम की मुख्य सिंचाई नहर है। जो कि गुरुग्राम के अलावा फरीदाबाद जिले में भी सिंचाई करती है। यह नई दिल्ली के निकट ओखला नामक स्थान से यमुना नदी पर बांध बनाकर निकाली गई है।

प्रमुख व्यक्ति

  1. अयोध्या प्रसाद गोयलिय – ये बादशाहपुर में ज्ञानपीठ के मंत्री रहे हैं।
  2. इफितयार अली खान पटौदी – इनका जन्म 16 मार्च 1910 को पटौदी में हुआ और उनकी मृत्यु 5 जनवरी 1952 को दिल्ली में हुई। यह हाकी और बिलियर्ड के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रहे हैं। इनको पटौदी का टाइगर भी जाता है।1928 में यह भारतीय हॉकी टीम के सदस्य भी रहे थे जो ओलंपिक्स में खेली थी। ये 1931 में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान भी रह चुके हैं।
  3. रुपीन डांग – फिल्म निर्माता हैं।
  4. अनूप कुमार – कबड्डी खिलाड़ी हैं।
  5. शिवानी कटारिया – तैराकी से संबंधित हैं।
  6. कस्तूरा बाई – ये स्वतंत्रा सेनानी है, जो बलदान गांव से संबंधित है।

गुरुग्राम की कुछ महत्वपूर्ण खास बातें

  1. जनसंख्या घनत्व में गुरुग्राम फरीदाबाद के बाद दूसरे स्थान पर है।
  2. राष्ट्रीय सौर संस्थान गुरुग्राम में फरीदाबाद रोड पर स्थित है।
  3. यहां पर इंस्टिट्यूट ऑफ़ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन की स्थापना सन 1983 में की गई।
  4. यहां का मारुति उद्योग काफी प्रसिद्ध है। जिसकी स्थापना 1983 में हुई।
  5. भारतीय कला संस्कृति का प्रतीक किंगडम ऑफ ड्रीम भी यहीं पर स्थित है।
  6. दिल्ली-गुरुग्राम एक्सप्रेस वे की स्थापना 30 जनवरी 2008 में हुई।
  7. उद्योग विहार भी गुरुग्राम में स्थित है।
  8. 2 फरवरी 2018 को मनेसर को दूसरा पुलिस जिला घोषित किया गया।
  9. गुरुग्राम 2008 में नगर निगम बना।
  10. मानेसर को आटो हाब के नाम से भी जाना जाता है।
  11. राहगीर नामक योजना 2013 में गुरुग्राम मे शुरू कि गई।
  12. राहगीर-डे 22 सितंबर को मनाया जाता है।
  13. कार-फ्री-डे 25 सितंबर 2014 से बनाया जाता है।
  14. हरियाणा सरकार अपने खुद के खर्चे पर गुरुग्राम को स्मार्ट सिटी बनाएगी।
  15. प्रति व्यक्ति आय में देश का तीसरा सबसे बड़ा शहर गुरुग्राम है और पहले स्थान पर चंडीगढ़ और दूसरे स्थान पर मुंबई है।
  16. सॉफ्टवेयर खरीदने में गुरुग्राम का स्थान तीसरा है।
  17. लेसर वैली, सहारा वैली व डी.एल.एफ. यह सभी गुरुग्राम में ही स्थित हैं।
  18. खिलाड़ीयों को आधुनिक और वैज्ञानिक ढंग से प्रशिक्षण देने के लिए गुरूग्राम में खेल छात्रावास की स्थापना भी की जा रही है।
  19. मिशन टी.बी. फ्री हरियाणा की शुरुआत गुरूग्राम से मनोहर लाल खट्टर ने की जिसके ब्रांड एंबेस्डर अमिताभ बच्चन बनाए गए हैं। वेदांत हॉस्पिटल इसमें सहयोगी रहा है।
  20. ताऊ देवी लाल स्टेडियम भी गुरुग्राम में ही स्थित है।
  21. व्हाइट पैलेस भी गुड़गांव के पटौदी शहर में स्थित है।
  22. हरीमंदिर संस्कृत विश्वविद्यालय भी यहीं पर स्थित है।

गुरुग्राम के प्रमुख पार्क

  1. हाईटेक टेक्नोलॉजी पार्क
  2. बायोटेक पार्क
  3. आई.टी. पार्क
  4. सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क

प्रमुख विश्वविद्यालय

  1. सैनिक विश्वविद्यालय – ईस विश्वविद्यालय की स्थापना सन् 2010 में, 200 एकड जमीन पर गुरुग्राम के बिनौला गांव में कि गई। और इसका उद्घाटन 23 अप्रैल सन 2013 को हुआ और यह एन.एच. 8 पर स्थित है। इसके चांसलर रक्षा मंत्री बनाए गए हैं।
  2. राष्ट्रीय मस्तिष्क ब्रेन अनुसंधान केंद्र की स्थापना 1997 में गुरुग्राम के मानेसर में की गई।
  3. ITM विश्वविद्यालय – 1996
  4. अपिजय साय विश्वविद्यालय – 2010
  5. अमिटी विश्वविद्यालय – 2010
  6. अंसल विश्वविद्यालय – 2012
  7. जी.डी. गोयनका विश्वविद्यालय – 2013

प्रमुख खनिज

  1. कांच बालू गुरुग्राम का प्रमुख खनिज है।
  2. चीनी मिट्टी गुरुग्राम के सिकंदरपुर नामक स्थान से प्राप्त होती है।
  3. क्वार्टर गुरुग्राम के बदरपुर क्षेत्र में थोड़ी बहुत मात्रा में मिलता है।
  4. भवन निर्माण की सामग्री गुरुग्राम के अंदर काफी मात्रा में मिलती है।

गुरुग्राम के प्रमुख मेले

  1. शीतला माता का मेला – गुरुग्राम
  2. बुद्ध माता का मेला – मुबारकपुर
  3. महादेव का मेला – इंच्छापुरी
  4. भगत पूर्णमल का मेला – कासन
  5. शाहचोखा खोरी का मेला – खोरी
  6. बूढ़ी तीज का मेला – ऑलदुक्का
No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हरियाणा GK
चंडीगढ़
Spread the love

Spread the love गुलाब के फूल का सबसे अधिक उत्पादन चंडीगढ़ में होता है। सिर – कैपिटल परिसर (सेक्टर 1)दिल – सिटी सेंटर (सेक्टर 17) नामकरण चंडी मंदिर के नाम पर इसका नाम चंडीगढ़ रखा गया। चंडीगढ़ का इतिहास यहां पर खुले हाथ स्मारक की स्थापना “ली कार्बुजियर” द्वारा सन …

हरियाणा के सभी 22 जिले
अंबाला
Spread the love

Spread the love ईन प्रशनों से रिलेटिड Video आप हमारे YouTube चैनल पर भी देख सकते हैं click here हरियाणा मे आम का सबसे अधिक उत्पादन अंबाला में होता है। मुख्यालय – अंबाला लिंगानुपात – 882/1000 जनसंख्या – 1128350 स्थापना – 1 नवंबर 1966 उप-मंडल – अंबाला, नारायणगढ़, बराड़ा तहसील …

हरियाणा के सभी 22 जिले
हिसार
Spread the love

Spread the love ईन प्रशनों से रिलेटिड Video आप हमारे YouTube चैनल पर भी देख सकते हैं click here हरियाणा के गठन के समय इस में 7 जिले बनाए गए थे। जिसमें सबसे बड़ा हिसार को बनाया गया। हिसार के गठन के समय ईसका क्षेत्रफल 13891 वर्ग किलोमीटर था। जो …

error: Content is protected !!