Spread the love

ईन प्रशनों से रिलेटिड Video आप हमारे YouTube चैनल पर भी देख सकते हैं click here

हमारी मंदाकिनी दुग्ध मेखला के केंद्र से लगभग 30000 प्रकाश वर्ष की दूरी पर एक कोने में स्थित है

सूर्य
बुध
शुक्र
पृथ्वी
मंगल
बृहस्पति
शनि
अरुण
वरुण

प्लूटो – यह गृह नहीं है

सूर्य अपने अक्ष पर पूर्व से पश्चिम की ओर घूमता है
सूर्य एक गैसीय गोला है, जिसमें
हाइड्रोजन – 71%
हीलियम – 26.5% तथा
अन्य गैसें 2.5% होती है
सूर्य का केंद्रीय भाग क्रोड कलाकार है
सूर्य का तापमान 1.5 x 10 की शक्ति 7 डिग्री सेल्सियस है
सूर्य की बाहरी सतह का तापमान 6 हजार डिग्री सेल्सियस है
सूर्य की ऊर्जा का प्रमुख स्त्रोत नाभिकीय सलंयन है
सूर्य ग्रहण के समय सूर्य के दिखाई देने वाले भाग को सूर्य किरीट (Corona) कहते हैं
सूर्य की उम्र लगभग 5 बिलियन वर्ष मानी गई है
सूर्य के प्रकाश को पृथ्वी तक पहुंचने में 8 मिनट 16.6 सेकंड का समय लगता है
सूर्य का व्यास 13 लाख 92 हजार किलोमीटर है, जो पृथ्वी के व्यास का लगभग 110 गुना है
सूर्य हमारी पृथ्वी से 13 लाख गुना बड़ा है
पृथ्वी को सूर्य के ताप का सिर्फ 2 अरबवां भाग हि मिलता है

बुध ग्रह
यह सूर्य का सबसे नजदीकी ग्रह है, जो सूर्य निकलने से सिर्फ 2 घंटा पहले ही दिखाई पड़ता है
यह सबसे छोटा ग्रह है
इसके पास कोई उपग्रह नहीं है
इसका सबसे विशिष्ट गुण, इसमें चुंबकीय क्षेत्र का होना है
यह सूर्य की परिक्रमा सबसे कम समय में पूरी करता है – मात्र 88 दिन में

शुक्र ग्रह
यह पृथ्वी का सबसे निकटतम ग्रह है
यह सबसे चमकीला एवं सबसे गर्म ग्रह है
ईस ग्रह को ‘सांझ का तारा’ या ‘भोर का तारा’ भी कहा जाता है
यह अंन्य ग्रहों के विपरीत, दक्षिणावर्त घुमता है
इसे ‘पृथ्वी का भगिनी ग्रह’ भी कहते हैं
यह घनत्व, आकार एवं व्यास में पृथ्वी के समान है
इसके पास कोई उपग्रह नहीं है

बृहस्पति ग्रह
यह सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है
इसे अपनी धुरी पर एक चक्कर पुरा करने में 10 घंटे लगते हैं और सूर्य की परिक्रमा करने में 12 वर्ष लगते हैं
इसका उपग्रह ग्यानीमीड है, जो सभी उपग्रहों में सबसे बड़ा है
इस ग्रह का रंग पीला है

मंगल ग्रह
ईसे लाल ग्रह भी कहा जाता है क्योकि इसका लाल रंग आयरन ऑक्साइड की उपस्थिति के कारण है यहां पृथ्वी के समान दो ध्रुव हैं
ईस ग्रह पर पृथ्वी के समान ऋतु परिवर्तन भी होता है।
इसके दिन का मान और अक्ष का झुकाव बिल्कुल पृथ्वी के समान है
यह अपनी धुरी पर 24 घंटे में ही एक चक्कर पूरा करता है
इसके दो उपग्रह है – फोबोस और डीमोस
यह सूर्य की परिक्रमा करने में 687 दिन लगाता है
सौरमंडल का सबसे बड़ा ज्वालामुखी औलिपस मेसी इसी ग्रह पर स्थित है
सौरमंडल का सबसे ऊंचा पर्वत निक्स ओलंपिया भी इसी ग्रह पर स्थित है, जो माउंट एवरेस्ट से 3 गुना अधिक ऊंचा है

शनि ग्रह
यह आकार में दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है
यह आकाश में पीले तारे के समान दिखाई देता है
इस ग्रह की सबसे बड़ी विशेषता, इसके चारों ओर वलय का होना है। जिसे मोटे प्रकाश वाली कुंडली भी कहा जाता है।
शनि का सबसे बड़ा उपग्रह टाइटन है
यह आकार में बुध ग्रह के समान है

अरुण ग्रह
यह आकार में तीसरा सबसे बड़ा घर है
इसकी खोज 1781 ईस्वी में विलियम हर्शेल के द्वारा की गई थी
इसके चारों ओर 9 वल्य हैं जिनमे से 5 वल्यों का नाम है –
अल्फा
बीटा
गामा
डेल्टा
ईप्सिलाॅन
यह ग्रह पूर्व से पश्चिम की ओर घूमता है (दक्षिणावर्त), जबकि अन्य सभी ग्रह पश्चिम से पूर्व की ओर घूमते हैं। इसी कारण इस ग्रह पर सूर्य उदय पश्चिम की ओर और सूर्यास्त पूर्व की ओर होता है।
यह अपनी धुरी पर सूर्य की ओर इतना झुका हुआ है कि लेटा हुआ-सा था दिखाई पड़ता है, इसीलिए इसे लेटा हुआ ग्रह भी कहा जाता है
इसके सभी उपग्रह पृथ्वी की विपरीत दिशा में परिभ्रमण करते हैं
इसका तापमान 18 डिग्री सेल्सियस है
इसका सबसे बड़ा उपग्रह टाइटेनिया है

वरुण ग्रह
इसकी खोज 1846 ईस्वी में जर्मन खगोलज्ञ जहाॅन गाले ने की।
प्लूटो ग्रह को हटाने के बाद नई खगोलीय व्यवस्था के अनुसार यह सूर्य से सबसे अधिक दूरी पर स्थित है
यह हरे रंग का ग्रह है
इसके चारों ओर अति शीतल मिथेन का बादल छाया हुआ है
इसके उपग्रह में ट्रिटान प्रमुख है

पृथ्वी
यह आकार में पांचवां सबसे बड़ा ग्रह है
यह सौरमंडल का एकमात्र ऐसा ग्रह जिस पर जीवन संभव है
इसका विषुवतीय व्यास 12756 किलोमीटर और ध्रुवीय व्यास 12714 किलोमीटर है
पृथ्वी अपने अक्ष पर साढे 23 डिग्री पर झुकी हुई है
यह अपने अक्ष पर पश्चिम से पूर्व कि ओर 1610 किलोमीटर प्रति घंटा की चाल से 23 घंटे 56 मिनट और 4 सेकंड में एक चक्कर पूरा करती है
पृथ्वी की गति को घूर्णन गति या दैनिक गति भी कहते हैं। इसी के कारण दिन रात होते हैं।
पृथ्वी को सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में 365 दिन 5 घंटे 48 मिनट और 46 सेकंड का समय लगता है
पृथ्वी की इसी परिक्रमा को पृथ्वी की वार्षिक गति या परिक्रमण गति भी कहते हैं
पृथ्वी को सूर्य की एक परिक्रमा करने में लगे समय को सौर वर्ष भी कहा जाता है
प्रत्येक सौर वर्ष मे, कैलेंडर वर्ष से लगभग 6 घंटा बढ़ जाता है। जिसे हर चौथे वर्ष में लीप वर्ष बनाकर समायोजित किया जाता है।
लीप वर्ष 366 दिन का होता है। जिसके कारण फरवरी माह में 28 के स्थान पर 29 दिन होते हैं।
पृथ्वी पर ऋतु परिवर्तन, ईसके अक्ष पर झुके होने के कारण तथा पृथ्वी की वार्षिक गति के कारण ही होते हैं।
वार्षिक गति के कारण ही पृथ्वी पर दिन और रात छोटे-बड़े होते हैं।
आकार एवं बनावट की दृष्टि से पृथ्वी शुक्र ग्रह के समान है।
जल की उपस्थिति के कारण इसे नीला ग्रह भी कहा जाता है
सूर्य के बाद पृथ्वी के सबसे निकट का तारा प्रोक्सिमा सेंचुरी है, जो अल्फा सेंचुरी समूह का एक तारा है। यह पृथ्वी से 4.22 प्रकाश वर्ष की दूरी पर है।
पृथ्वी का एकमात्र उपग्रह चंद्रमा है

प्लूटो ग्रह
24 अगस्त 2006 को अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय विज्ञानी संघ की बैठक में खगोल विज्ञानियों ने प्लूटो का ग्रह होने का दर्जा खत्म कर दिया है, क्योंकि इसकी कक्षा वृत्ताकार नहीं है और यह वरूण ग्रह कि कक्षा से होकर गुजरता है। ईसलिए नई खगोलीय व्यवस्था के अनुसार, प्लूटो ग्रह को, बोने ग्रह की श्रेणी में रखा गया है।

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हमारा सौरमंडल
चन्द्रयान 2 के 40 महत्वपूर्ण प्रश्न
Spread the love

Spread the love प्रश्न1 चंद्रयान मिशन 2 को कब लांच किया गया? उत्तर- 22 जुलाई 2019 प्रश्न2 Chandrayaan-2 अभियान को भारत के किस शक्तिशाली रॉकेट से लांच किया गया? उत्तर –GSLV मार्क 3 प्रश्न3 भारत की कौन सी संस्था ने चंद्रयान मिशन 2 को लॉन्च किया? उत्तर- ISRO (भारतीय अंतरिक्ष …

हमारा सौरमंडल
सौरमंडल और महत्वपूर्ण प्रश्न
Spread the love

Spread the love टेलीफोन का आविष्कार किसने किया था ? उतर -अलेक्जेंडर ग्राहम बेल प्रकाश की गति कितनी होती है ? उतर -300000 कि.मी./ सेकंड पृथ्वी सूर्य का चक्कर लगाती है यह सबसे पहले किसने बताया ? उतर -कोपरनिकस प्रकाश वर्ष का सम्बन्ध किससे है ? उतर – खगोलीय दूरी …

हमारा सौरमंडल
Some important quction of our sormandal
Spread the love

Spread the love प्रकाश वर्ष क्या मापने की इकाई है ? – दूरीपृथ्वी किस मंदाकिनी का हिस्सा है ? – दुग्धमेखला मंदाकिनीदुग्धमेखला मंदाकिनी की खोज किसने की ? – गैलीलियोसूर्य से सबसे अधिक दूरी पर स्थित कौन सा ग्रह है ? – वरूणकिस ग्रह का ग्रह होने का दर्जा खत्म …

%d bloggers like this: